सुबह का सपना देखना क्यों होता है सच

 सुबह का सपना देखना : सपना एक ऐसी काल्पनिक चीज है जिसकी कल्पना इंसान सोने के बाद अक्सर करता है। ये सपने अक्सर तब आते हैं जब इंसान गहरी नींद में प्रवेश करता है। ये सपने कई तरह के होते हैं ये अच्छे या फिर बुरे भी हो सकते हैं और कुछ सपने तो इतने बुरे होते हैं की इंसान डर जाता है और नींद में ही रोने लगता है। 

हिंदी कहानी पढ़ें

आकर सपने के बारे में कहा जाता है की रात या दिन में देखे गए सपने कभी हकीकत में नहीं बदलते क्योंकि इसके बारे में माना जाता है की ये सपने हमारे दिनचर्या या दिमाग के कुछ दृश्य होते हैं। लेकिन जब इंसान कोई सपना सुबह के समय देखता है तो उसके बारे में चिंतित हो जाता है। क्योंकि लोग मानते हैं की सुबह के समय देखे गए सपने सच होते हैं और ये हकीकत में बदल जाते हैं, पर कोई ये नहीं बताता है की ऐसा क्यों है ?

असल में इस मान्यता का सीधा कनेक्शन रामायण से जुड़ा है। रामायण में सुबह के आये सपने से सम्बंधित रामायण में एक सुन्दर प्रसंग दिया गया है। रामायण के अनुसार कहा जाता है की जब माता सीता को रावण लंका ले गया था और उन्हें राक्षसियों की देख रेख में अशोक वाटिका में रखा था , तो वही एक दिन त्रिजटा नाम की एक राक्षसी अपने साथियों से बोलती है , की मैने आज सुबह सुबह एक सपना देखा जिसमे एक वानर लंका को जला रहा है। इतना ही नहीं मैंने ये भी देखा की रावण नंगा होकर गधे पर बैठा हुआ है। उसके सर मुड़े हुए और उसकी बिसो भुजाएं कटी हुई हैं और रावण यमपुरी की तरफ जा रहे हैं। इतना ही नहीं लंका विभीषण ने पाली है साथ ही पूरी लंका में राम का जय जयकार हो रहा है और माता सीता को लेकर चले जाते हैं। 

अपने सपने के बारे में बताते हुए कहती है की हमसब की भलाई इसी में है की हम माता सीता की चरणों में गिरकर माफ़ी मांग लें और इनके सेवक बन जायँ। क्योंकि मेरा देखा गया यह सपना चार दिनों के बाद सच हो जायेगा। 

त्रिजटा की ये बाते सुनकर सभी राक्षसियाँ डर गयीं और माता सीता की चरणों में आ गयी। लेकिन ठीक वैसा ही हुआ। त्रिजटा का देखा गया यह सपना सच हो गया , कुछ दिनों बाद प्रभु हनुमान आकर विभीषण की कुटिया के अलावा सारी लंका में आग लगा देते हैं। और फिर कुछ दिन बाद प्रभु राम वानर सेना के साथ आते हैं और सभी राक्षसों समेत रावण का वध कर देते हैं और लंका का राज पाठ विभीषण को दे दिया जाता है। 

इसी घटना के बाद से ये कहावत परचलित हो गयी की सुबह में देखा गया सपना सच होता है और यही कारण है की जब कोई इंसान सुबह के समय सपना देखता है तो उस सपने को लेकर गंभीर हो जाता है। क्या आपके साथ कभी ऐसा हुआ है कमेंट में जरूर बताएं। 

सपने का मतलब क्या होता है ?

सपने का मतलब क्या होता है : सपनों का मतलब हमारे अवचेतन मन के द्वारा देखा गया दृश्य होता है। इतना ही नहीं हमारे द्वारा देखे गए सपने का मतलब भी अलग अलग होता है। सपना देखना या नींद में सपना आना एक स्वाभाविक क्रिया है जो हर इंसान को आता है। इसे हमारे जीवन में घटित होने वाले घटने के पहले का संकेत भी माना जाता है।

हमारे ज्यादातर सपनो का सम्बन्ध हमारे मन में चल रहे विचारों तथा वर्तमान व जीवन में घटित घटनाओ से होता है। इस लिए अक्सर देखा होगा की हमें ज्यादातर वही सपने आते है जिनके बारे में हम ज्यादा सोचते है या जिन्हे पाना चाहते है।

%E0%A4%B8%E0%A4%AA%E0%A4%A8%E0%A5%87 %E0%A4%95%E0%A4%BE %E0%A4%AE%E0%A4%A4%E0%A4%B2%E0%A4%AC %E0%A4%95%E0%A5%8D%E0%A4%AF%E0%A4%BE %E0%A4%B9%E0%A5%8B%E0%A4%A4%E0%A4%BE %E0%A4%B9%E0%A5%88
सपने का मतलब क्या होता है

रात में सपना क्यों आता है ?

रात में सपना क्यों आता है : हम सभी जानते हैं की सपने  हमारे मन की एक विशेष अवस्था होते हैं, जिसमें वास्तविकता का आभास होता है लेकिन, यह वास्वतिक नहीं होते है।ये सपने उसी समय आते हैं जब हमारा शरीर और दिमाग बिलकुल शान्त होता है और ऐसा रात के समय ही संभव हो पाता है यही कारण है की ज्यादा तर सपने रात में ही आते हैं लेकिन जब कभी हम दिन में भी सो रहें होते हैं तब भी हमें सपने आते हैं और उसका कारण भी यही है।

सपनो का फल कब मिलता है ?

सपनो का फल : सपनो के फल के बारे में माना जाता है की अलग अलग समय में देखे हुए सपने का फल भी अलग अलग समय के बाद मिलता है। जैसे की यदि हमने रात्रि 1 से 2 बजे के बीच सपना देखा है तो उसका फल एक वर्ष में प्राप्त हो सकता है, रात्रि के 3 से 4 बजे के बीच देखे गए सपनों का फल छह महीने में आने की संभावना रहती है, इसी तरह सुबह के 4 से 5 बजे के बीच देखे सपनों के तीन महीनों में फल मिलने कि सम्भावना होती है , ओर सुबह के 5 से 6 बजे के बीच सपनों के फलीभूत होने का समय 1 महीना माना जाता है। 

कब देखा गया सपना सच होता है ?

हम सभी जानते हैं की सपने सोने के बाद आते हैं लेकिन इंसान कभी पीकर सो रहा होता है तो कभी अत्यधिक थकान के कारण और ऐसे में कोई सपना आता है तो क्या ओ सच होगा या नहीं। चलिए इसके बारे में जानते हैं।

  1. नशीली चीजों का सेवन करके सोने के बाद नींद में देखा गया सपना व्यर्थ माना जाता है। 
  2. यदि आप बीमार हो इस दौरान देखा गया सपना भी कोई फलकरी नहीं होता है। 
  3. दोपहर में सोते हुए देखे सपनो का कोई स्वपन फल नहीं होता है। 
  4. स्वपन शास्त्र के अनुसार, रात्रि के 10 बजे से 12 बजे के बीच देखे गए सपनों का कोई मतलब नहीं होता है।
  5. रात्रि काल के दुसरे पहर में देखा गया सपना आधा सच और आधा झूट हो सकता है। 
  6. ब्रम्हमुहर्त या रात्रि काल के आखरी पहर यानि कीम सुबह सुबह देखे गए सपनों के सच होने की सम्भावना ज्यादा रहती है। 
  7. रात के समय यदि कोई सपना आता है और सपने के बीच में आपकी नींद खुल जाये और बाद में आप फिर सो जाएँ तो देखे गए सपने का दोष नष्ट हो जाता है और प्रभाव ख़त्म हो जाता है। 
See also  आलसी बन्दर | हिंदी कहानी (moral stories in hindi)

जब सपने देखते समय हमारा नींद खुल जाता है तो वैसे सपनो का फल कुछ नहीं होता है और इसका मतलब होता है की ढूँढना बेकार है।

आपके द्वारा देखे गए सपने के बारे में किसी को नही बताना चाहिए और जल्दी से सपनो का फल ज्ञात कर लेना चाहिए। 

स्वपन शास्त्र के अनुसार देखे गए हर सपनो का अर्थ होता है। यदि आपको अपने सपनो का मतलब जानना है तो ,आपको यह याद रखना होगा की आपने रात में कोनसा सपना देखा और किस समय देखा है जिससे आप उस सपने का मतलब जान सकें। तो जानते है, की आपके सपनो का क्या मतलब या अर्थ  होता है ?

अलग अलग देखे सपनो का मतलब –

सपने में गणेश जी देखने का मतलब : अगर कोई व्यक्ति अपने सपने मेंगणेश जी को देखता है तो यह दुर्लभ और बहुत शुभ सपना होता है।सपने में गणपति जी का दिखना परेशानियों का ख़त्म होना, काम बनना, रुके काम पूरे होना, सुख शांति का आना, पुत्र की प्राप्ति होना, धन, वैभव और सम्मान की प्राप्ति का संकेत माना जाता है।

सपने में शिवलिंग देखना का मतलब : सपने में शिवलिंग का दिखना बहुत शुभ माना जाता है। सपने में शिवजी का दिखने का मतलब निकट भविष्य में आपके सारे कष्ट दूर होने का संकेत माना जाता है।

शिव पार्वती को सपने में देखने का मतलब : शिव और पार्वती को वैवाहिक जीवन का आदर्श माना जाता है। शिव शंभू विवाह संबंधों में आदर्श माने गए हैं ।सपने मेंशिव-पार्वती एक साथ दिखें तो समझिए आपके लिए नए मौकों का आगमन होने वाला है । किसी प्रकार के लाभ की सूचना मिलने वाली है । कुंवारे लोगों को ऐसा सपना दिखे तो उनके जल्‍दी विवाह की संभावना होती है । पति-पत्‍नी में लंबे समय से मतभेद चल रहे हों तो ऐसा सपना मतभेद खत्‍म होने की तरफ इशारा करता है ।

विष्णु भगवान को सपने में देखने का मतलब : भगवान विष्‍णु का सपने में  दिखना भाग्योदय की ओर इशारा करता है। अगर आपको इस तरह का सपना आए तो समझ लीजिए की आपकी परेशानियां जल्द ही दूर होने वाली हैं।

सपने में मां दुर्गा को देखना  मतलब : सपने में मां दुर्गा का दिखना इस बात की ओर इशारा करता है कि आपका या आपके परिवार के किसी सदस्य को किसी बीमारी के जल्दी ही छुटकारा मिल सकती है और जल्दी ही ठीक हो जायेगे।

सपने में कृष्ण भगवान को देखने का मतलब : सपने में भगवान श्री कृष्ण का दिखना बतलाता हे कि आपके प्रेम संबंध सफलता की और अग्रसर हो रहे हैं।

See also  रानी परी की शादी | Pariyon ki kahaniyan

सपने में हनुमान जी को देखने का मतलब : यदि आपको रात को सपने में हनुमान जी दिखते हैं तो स्वप्न शास्त्र के अनुसार आपको शत्रुओं पर विजय मिलेगी।

सपने में मां लक्ष्‍मी का दिखने का मतलब : सपने में मां लक्ष्मी का दिखना धन लाभ का संकेत होता है। यह व्यवसाय में तरक्की कराने वाला होता है।सपने में देवी लक्ष्‍मी का दिखना सुख-समृद्धि का प्रतीक माना जाता है।

सपने में  श्री कृष्ण और राधा रानी दिखने का मतलब : ज्योतिष शास्त्र के अनुसार अगर कोई व्यक्ति सपने में भगवान श्री कृष्ण और राधा रानी को देखता है तो उसके आने वाले जीवन में हर प्रकार से खुशियां आती हैं पति-पत्नी के संबंधों में मिठास उत्पन्न होता है और अनायास ही उनके सारे शत्रु का नाश होता है। 

सपने में अप्सरा दिखने का मतलब : इसका मतलब धन और मान सम्मान की प्राप्ति है और यदि आपको अप्सरा सफ़ेद वस्त्रों में दिखती है तो आपको सुन्दर पत्नी की प्राप्ति होगी। 

सपने में परिवार को देखना | सपने में रिश्तेदारों को देखना

सपने में माता पिता को देखना : यदि आपको अपने सपनो में अपने माता पिता के दर्शन होते है तो आपको अपने कार्यक्षेत्र में सम्मान मिलने वाला है, ऐसे योग बनते है। 

सपने में दोस्त का दिखना : सपने में दोस्तों का दिखाई देने का मतलब है कि आपके दोस्त के जीवन को आपकी सलाह की जरूरत है या आप चाहते है कि आपके दोस्त आपकी सुनें।

छोटे बच्चे को सपने में देखना : यदि आपको बीते कुछ दिनों से अपने सपनों में छोटे बच्चे दिख रहें है तो जल्द ही आपकी अधूरी इच्छा पूर्ण हो सकती है। 

अपने किसी रिश्तेदार को सपने में देखना : सपने में किसी रिश्तेदार को अपने घर में आता हुआ देखने का मतलब है, की आपको नए अच्छे अवसर मिलने वाले है। 

सपने में भाई का दिखना : रात के सपने में यदि आपको आपका भाई दिखता है तो आपके नए मित्र बन सकते है। 

सपने में भाभी का दिखना : स्वयं को कष्ट मिले , भतीजा जन्मने का संकेत हो सकता है। 

सपने में पति को देखना इसका क्या मतलब  : सपने में अपने पति को देखना अच्छा सूचक है, इससे आपके रिश्ते और अधिक मजबूत होंगें, एवं जीवन में बहुत सी खुशियाँ दस्तक देंगी। 

सपने में पत्नी को देखना : दांपत्य जीवन में प्रेम तथा आनंद का बढऩा माना जाता है। 

सपने में गुरु को देखना : गुरु या टीचर का सपने में दिखाई देना अच्छा होता है, इससे जीवन में बाधाएं दूर होती है और सफलता प्राप्त होती है। 

सपने में Bahan को देखना : सपने में बहन को देखना परिजनों में प्रेम बढ़ने का संकेत है। 

सपने में ससुर को देखना : यदि आपकी शादी हो गई है और आपके सपने में आपने अपने ससुर जी को देखा तो आपको शुभ समाचार मिले का संकेत है। 

दामाद को सपने में देखना : इस सपने का मतलब आपकी पुत्री को कष्ट हो सकता है, इसका संकेत माना जाता है। 

Share With Friends:

Leave a Comment

error: